सामाजिक मूल्यों का महत्व।

0
62

महत्व सामाजिक मूल्यों के महत्व को हम निम्नवत् दर्शा सकते हैं

1. व्यक्ति हेतु महत्व

सामाजिक मूल्य हमारे व्यक्तिगत जीवन से घनिष्ठ रूप सम्बन्धित है। व्यक्ति समाजीकरण की प्रक्रिया के माध्यम से विभिन्न सामाजिक मूल्यों आत्मसात् करता है तथा अपने व्यवहार, आचरण और जीवन को उनके ही अनुरूप ढालने का प्रयास करता है।

2. भौतिक संस्कृति के महत्व में वृद्धि

भौतिक संस्कृति के कतिपय तत्व कुछ व्यक्तियों या समूहों के लिए भले ही अधिक महत्वपूर्ण न होते हो, किन्तु पीछे सामाजिक मूल्यों के निहित होने के कारण लोग उन वस्तुओं को रखने में पर्याप्त रूचि रखते हैं। इससे भौतिक संस्कृति का महत्व बढ़ता है।

3. सामाजिक भूमिकाओं का निर्देशन करना

सामाजिक मूल्यों के द्वारा यह भी निर्धारित किया जाता है कि एक व्यक्ति किसी एक विशिष्ट परिस्थिति के अन्तर्गत वस्तुतः किस प्रकार की भूमिका अदा करेगा। इस प्रकार सामाजिक मूल्य व्यक्तियों की भूमिकाओं का निर्देशन भी करते हैं।

प्रतिस्पर्धा का अर्थ एवं परिभाषा लिखिए।

4. समाज में आदर्श विचारों और व्यवहारों के प्रतीक

सामाजिक मूल्यों में आदर्श पाये जाते हैं। इसी कारण उन्हें समाज की स्वीकृति और मान्यता प्राप्त होती है। इसीलिए सामाजिक मूल्यों को उस समाज के आदर्श विचारों और व्यवहारों का प्रतीक माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here