परिवार के प्रकार बताइये।

परिवार के प्रकार – परिवार को मुख्यता पाँच वर्गों में विभाजित किया गया है

(1) सदस्यों की संख्या के आधार पर इसके दो प्रकार हैं-

  • (क) एकांकी परिवार
  • (ख) संयुक्त परिवार

(2) विवाह के आधार पर

  • (क) एक विवाही परिवार
  • (ख) बहु विवाही परिवार

बहु विवाह परिवार के भी दो भेद हैं-

  • (i) बहुपत्नी परिवार
  • (ii) बहुपति परिवार

(3) अधिकार या सत्ता के आधार पर परिवार के प्रकार:-

इस आधार पर परिवार 2 प्रकार के होते हैं-

  • (क) पितृ सत्तात्मक परिवार
  • (ख) मातृ सत्तात्मक परिवार

पितृ सत्तात्मक परिवार:-

जिन परिवारों में परिवार का मुखिया पुरुष होता है तथा परिवार में पुरुषों के हाथों में प्रभुत्व रहता है। उन्हें पितृसतात्मक परिवार कहते हैं। मातृ सत्तात्मक परिवार:- ऐसे परिवारों में परिवार की मुखिया स्त्री होती है और वही परिवार का केन्द्र होती है। उसे ही ऐसे परिवारों का मूल पूर्वज माना जाता है। स्त्री और उसके रक्त सम्बन्धियों के हाथों में परिवार की सत्ता होती है। मालाबार में वेल्लोर तथा नायर और असम में खासी तथा गारो जनजातियों में ऐसे परिवाद देखे जा सकते हैं।

(4) वंश नाम के आधार पर परिवार के प्रकार:-

इस आधार पर परिवार के प्रकार निम्न होते हैं

(क) मातृवंशीय परिवार:-

ऐसे परिवार में स्त्री के नाम से वंश चलता है और संतानों को माता के वंश का नाम मिलता है।

संयुक्त परिवार का भविष्य क्या है?

(ख) पितृवंशीय परिवार:

ऐसे परिवारों में वंश पिता के नाम से चलता है, संतानों को पिता के वंश का नाम मिलता है।

(ग) द्विनामी परिवार:-

ऐसे परिवारों में माता और पिता दोनों के ही वंशनाम से परिवार चलता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top