इंग्लैण्ड के पुनर्जागरण का इतिहास लिखिए।

0
38

इंग्लैण्ड के पुनर्जागरण का इतिहास – 15वीं शताब्दी के अन्त तक इंग्लैण्ड में राष्ट्रीय एकता एवं राष्ट्रीय सरकार की स्थापना हो चुकी थी। सौ वर्षीय युद्ध के फलस्वरूप इंग्लैण्ड में राष्ट्रीयता एवं देश प्रेम की भावनाएँ जाग्रत हुयी; साथ ही साथ वहाँ व्यापक सामन्तीय युद्ध का नरसंहार प्रारम्भ हुआ। यही सामन्तीय युद्ध ‘गुलाबों का युद्ध’ कहलाता है। सन् 1485 में हैनरी ट्यूडर के शासन काल में इंग्लैण्ड में नये युग का प्रारम्भ हुआ। हेनरी ट्यूडर ने सबसे पहले देश में शान्ति व्यवस्था एवं सुरक्षा की स्थापना के उद्देश्य से शक्तिशाली राजतन्त्र स्थापित करने की कोशिश की। सन् 1496 में हेनरी ट्यूडर ने नीदरलैण्ड के साथ व्यापारिक सन्धि की। उसने डेनमार्क के राजा के साथ भी एक सन्धि की थी।

चन्देल वंश के इतिहास की जानकारी के प्रमुख साधनों का उल्लेख कीजिए।

हेनरी ट्यूडर ने 1496 में आस्ट्रिया के सम्राट के साथ भी एक लाभदायक व्यापारिक सन्धि की थी। उसके शासन काल में जॉन कैबट ने सन् 1497 में अमेरिका में न्यूफाउण्डलैण्ड और लैब्राडोर का पता लगाया था। सन 1603 में स्कॉटलैण्ड व इंग्लैण्ड का एकीकरण हो गया और इंग्लैण्ड में स्टुअर्ट राजवंश का शासक प्रारम्भ हुआ। पुनर्जागरण का प्रारम्भ यद्यपि इटली से हुआ था, लेकिन इसे सबसे अधिक सफलता इंग्लैण्ड में ही मिली, क्योंकि यहाँ के निवासी नवीन विचारों को शीघ्र ग्रहण करने योग्य हो चुके थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here