धर्म सुधार आन्दोलन के प्रमुख कारण लिखिए।

0
39

यूरोप में धर्म सुधार आन्दोलन प्रारम्भ होने के निम्नलिखित कारण थे:

1-पन्द्रहवीं शताब्दी के अन्त तक कैथोलिक चर्च में अनेक कुरीतियों और बुराईयो उत्पन्न हो गयी थी।

2-सांस्कृतिक पुनर्जागरण ने ‘मानववाद’ का पथ-प्रदर्शन करके बौद्धिक स्वतन्त्रता जागृत कर दी थी, जिसका विरोध कैथोलिक चर्च करता था। कैथोलिक चर्च और यूरोप के कुछ राज्यों में संघर्ष होने लगा था। अतः आज जनता कैथोलिकों के विरुद्ध होती जा रही थी।

3 चर्च के पास असीम धन-सम्पत्ति थी, जिसे धर्माधिकारी अपने भोग-विलास पर व्यय कर रहे थे। जब कि नये मार्गों की खोजों ने अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार को बढ़ावा दिया और इसके लिए पर्याप्त धन की आवश्यकता थी।

पृथ्वीराज तृतीय (चामान) की विजय पर प्रकाश डालिए।

4- सांस्कृतिक पुनर्जागरण से व्यक्तियों में उत्पन्न बौद्धिक जागृति, वैज्ञानिक दृष्टिकोण का विकास और समालोचनात्मक प्रकृति ने भी धर्म सुधार प्रारम्भ होने का मार्ग प्रशस्त किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here