अखिल भारतीय शैक्षिक एवं व्यावसायिक निर्देशन संघ पर टिप्पणी लिखिए।

0
139

अखिल भारतीय शैक्षिक एवं व्यावसायिक निर्देशन संघ

राष्ट्रीय स्तर पर इस संघ की स्थापना की गई है। इस संघ का मुख्य कार्य- राष्ट्रीय स्तर पर निर्देशन कार्यक्रमों तथा विचारधाराओं का प्रसार करना तथा विभिन्न निर्देशन कार्यक्रमों को सम्बित करना यह संघ निर्देशन साहित्य का प्रकाशन तथा वितरण भी करता है। यह संघ निर्देशन सम्बन्धी एक पत्रिका (Joiral of Vocational and Educational Guidance) का प्रकाशन भी करता है।

पुनर्वास एवं नियोजन निदेशालय (Directorate General of Rehabilitation and Employment)

निदेशालय केन्द्रीय श्रम, पुनर्वास एवं नियोजन मंत्रालय के अधीन है। प्रारम्भ में (भारत के विभाजन से पहले) इस निदेशालय का कार्य पश्चिमी अधीन है। प्रारम्भ में (भारत के विभाजन से पहले इस निदेशालय का कार्य पश्चिमी एवं पूर्वी (जो अब बंगला देश में है) पाकिस्तान से आये लोगों (शरणार्थियों) को पुनर्वासित करना था। आजकल इस निदेशालय के अधीन देश के सभी रोजगार कार्यलयों से निर्देशन के बारे में विभिन्न प्रकार का साहित्य को प्रकाशित करते हैं। इस विभाग ने लगभग 85 रोजगार परिचय पुस्तकों (Pamphlets) का प्रकाश किया है। इसी निदेशालय ने द्वितीय पंचवर्षीय योजना के दौरान वा-रोजगार सेवा (Youth Employment Service) भी प्रारम्भ की। यह विभाग निर्देशन से सम्बन्धित अनुसन्धान कार्य का संचालन भी करता है। इस विभाग के अतिरिक्त केन्द्र सरकार का प्रकाशन विभाग तथा अन्य मंत्रालय भी निर्देशन के क्षेत्र में कार्य करते हैं।

पर्यावरण संरक्षण में विद्यालय की भूमिका का वर्णन कीजिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here