भारतीय समाज से आप क्या समझते हैं?

भारतीय समाज :-

भारतीय समाज से तात्पर्य ऐसे समाज से है जिसका अधिकांश भाग गाँव में निवास करता है, जिसमें अनेक धर्मों, जातियों और भाषाओं के बोलने वालों का सम्मिश्रण पाया जाता है। विविधता में एकता भारतीय समाज की प्रमुख विशेषता है। भारतीय समाज और संस्कृति की विविधता में एकता की इस अनुपम और अनूठी विशेषता ने ही इसे अभी तक जीवित बनाये रखा है। भारतीय समाज ‘बहु’ समुदायिक समाज’ माना जाता है इसलिए भारतीय समाज को विविधता में एकता और एकता में विविधता रूपी समाज भी कहा जाता है।

समाज का अर्थ

समाज से आशय है, सामाजिक प्राणियों के मध्य पाये जाने वाले विभिन्न सामाजिक सम्बन्धों की समग्रता, जटिलता या सामाजिक सम्बन्धों का जाल।

शिक्षा गारण्टी योजना (EGS) के कार्यान्वयन के संस्थागत संरचना की विवेचना कीजिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top