प्रौढ़ शिक्षा के प्रमुख उद्देश्य क्या हैं ?

प्रौढ़ शिक्षा के उद्देश्य (Objectives of Adult Education)-

प्रौढ़ शिक्षा का उद्देश्य व्यापक है। इसका उद्देश्य व्यक्ति का सर्वांगीण विकास करना है। समाज में वही व्यक्ति सफल माना जाता है, जो अपने दायित्व का निर्वाह भली-भाँति करता है। सभी के साथ घुल मिलकर रहने की चेतना विकसित करता है। वही वास्तविक सामाजिक होता है। जैसा कि प्रसिद्ध विचारक के. जी. सैयदेन का विचार है-“प्रौढ़ शिक्षा का उद्देश्य विभिन्न राष्ट्रों के सभी स्त्री-पुरुषों को परस्पर मिलाकर एक मैत्री भाव उत्पन्न करना है।”

संयुक्त परिवार की विशेषता लिखिए।

कहने का अभिप्राय यह है कि प्रौढ़ शिक्षा मातृ साक्षरता तक सीमित नहीं, अपितु इसकी आवश्यकता जीवन के विभिन्न पक्षों में जागरूकता लाने को है, जो इसका उद्देश्य पूर्ण मानव के विकास में निहित है।

  1. साक्षरता को बढ़ावा देना (To promote literacy)
  2. व्यावसायिक कुशलता की प्राप्ति (To obtain technical knowledges)
  3. नागरिकता के गुणों का विकास (To develop qualities of citizenship)
  4. सांस्कतिक दृष्टिकोण का विकास करना (To develop cultural outlook)
  5. सामाजिक चेतना का विकास (Development of social

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top