नवाचार के विभिन्न प्रकार कौन से हैं?

0
104

नवाचारों के प्रकार-

शिक्षा के क्षेत्र में, नवाचार की अवधारणा अभी पूरी तरह से विकसित नहीं हुई है। अपने देश में अभी बहुत कम विद्यालय है, जिनमें कभी-कभी नवाचारों को स्वीकार किया जाता है। अभी तक शिक्षा उद्देश्यों की प्राप्ति में योजनाबद्ध ढंग से नवाचारों का प्रयोग नहीं किया जाता।

विद्यालयों में नवाचारों का प्रयोग करने में, निम्नलिखित समस्याएं सामने आती हैं

  1. नवाचार का चयन किस आधार पर किया जाये।
  2. किस प्रकार के नवाचारों को अपनाया जाये।
  3. नवाचार का परिणाम क्या होगा? यह विद्यालय की किस समस्या का समाधार करेगा। नवाचार को दो वर्गों में विभाजित किया जा सकता है

प्रतीकात्मक अन्तर्क्रियावाद को परिभाषित करें।

(क) समस्या समाधान सम्बन्धी नवाचार – जब किसी दृष्टि से अपेक्षित परिवर्तन के लिए अथवा किसी समस्या का समाधान करने के लिए किसी नवाचार का चयन किया जाता है, तो ऐसे नवाचार को समस्या समाधान सम्बन्धी नवाचार’ कहा जाता है।

(ख) सामाजिक अन्तःक्रिया सम्बन्धी नवाचार – जब अपने ही विद्यालय के किसी शिक्षक अथवा किसी अन्य विद्यालय के शिक्षक से नवाचार सम्बन्धी कोई जानकारी प्राप्त होती हैं, तो इस प्रकार के नवाचार को ‘सामाजिक अन्तः क्रिया सम्बन्धी नवाचार कहा जा सकता है, क्योंकि ऐसी स्थिति में कोई भी नवाचार विभिन्न व्यक्तियों एवं विभिन्न संस्थाओं की परस्पर अन्तःक्रिया के द्वारा विकसित होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here